Asianet News HindiAsianet News Hindi

Vivah Panchami 2021: शादी में आ रही हैं अड़चनें तो 8 दिसंबर को करें ये उपाय, शीघ्र बनेंगे विवाह के योग

धर्म ग्रंथों के अनुसार भगवान श्रीराम और देवी सीता का विवाह त्रेतायुग में मार्गशीर्ष मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी को हुआ था। इसलिए इस तिथि को विवाह पंचमी (Vivah Panchami 2021) के रूप में मनाया जाता है। इस बार ये शुभ तिथि 8 दिसंबर, बुधवार को है। इस दिन प्रमुख राम मंदिरों में विशेष आयोजन किए जाते हैं।

Hinduism Astrology Vivah Panchami 2021 Remedies Remedies for Marriage MMA
Author
Ujjain, First Published Dec 7, 2021, 7:56 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, जिन लोगों के विवाह में बाधाएं आ रही हो वे यदि इस दिन व्रत रखकर भगवान श्रीराम-सीता की पूजा करें तो उनकी मनोकामना पूरी हो सकती है। मान्यता है कि इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से शीघ्र विवाह के योग बनते हैं और योग्य जीवनसाथी मिलता है। इन उपायों को विवाह योग्य लड़का या लड़की दोनों में से कोई भी कर सकता है। आगे जानिए इन उपायों के बारे में…
 

1. विवाह पंचमी पर निराहार व्रत रखें और विधि-विधान से देवी सीता और भगवान श्रीराम की पूजा करें। साथ ही उन्हें गाय के दूध से बनी खीर का भोग भी लगाएं। इस उपाय से जल्दी विवाह के योग बन सकते हैं।
2. यदि विवाह में बार-बार अड़चने आ रही हैं तो 8 दिसंबर को श्रीरामचरित मानस की इस चौपाई का जाप कम से कम 108 बार करें।
मनु जाहिं राचेउ मिलिहि सो बरु सहज सुंदर साँवरो। 
करुना निधान सुजान सीलु सनेहु जानत रावरो॥ 
एहि भाँति गौरि असीस सुनि सिय सहित हियँ हरषीं अली। 
तुलसी भवानिहि पूजि पुनि पुनि मुदित मन मंदिर चली॥
3. श्रीराम भगवान विष्णु के ही अवतार थे और सीता देवी लक्ष्मी की। इसलिए विवाह पंचमी पर गाय के दूध में केसर मिलाकर विष्णु-लक्ष्मी का अभिषेक करें। इससे भी शीघ्र विवाह के योग बन सकते हैं।
4. अगर ग्रहों के अनुकूल न होने पर विवाह में देरी हो रही है तो उस ग्रह से संबंधित दान विवाह पंचमी पर करना चाहिए। इससे जल्दी ही शुभ फल मिलने लगते हैं।
5. अगर आप विवाहित है आपके वैवाहिक जीवन में परेशानियां आ रही हैं तो आप श्रीरामचरित मानस की इस चौपाई का जाप कम से कम 108 बार करें।
सुनु सिय सत्य असीस हमारी। पूजिहि मन कामना तुम्हारी॥
नारद बचन सदा सुचि साचा। सो बरु मिलिहि जाहिं मनु राचा॥
6. विवाह पंचमी यानी 8 दिसंबर को पहले देवी सीता को सुहाग की सामग्री अर्पित करें और बाद में से किसी ब्राह्मण स्त्री को दान कर दें। इससे आपकी विवाह संबंधी हर मनोकामना पूरी हो सकती है।
 


 

ये वास्तु टिप्स भी पढ़ें

घर के मंदिर में ध्यान रखें ये बातें, कैसी मूर्ति की करें पूजा और किस तरह की मूर्तियां रखने से बचें

घर में हो वास्तु दोष तो भी करियर में आती है बाधाएं, ध्यान रखें ये वास्तु टिप्स

Feng shui tips: किस धातु से बनी विंड चाइम्स घर की किस दिशा में लगाना चाहिए, जानिए खास बातें

Vastu Tips: इन छोटी-छोटी बातों का रखेंगे ध्यान तो दूर होंगी परेशानियां और मिल सकती है तरक्की

वास्तु दोष निवारक यंत्र से दूर हो सकती हैं आपकी परेशानियां, जानिए इसके फायदे और खास बातें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios