मासूम ने पिता को किया सैल्यूट, पत्नी हाथ जोड़ खड़ी रही, रुला देंगीं शहीदों की अंतिम विदाई

वीडियो डेस्क। लद्दाख में चीन की सेना के साथ हुई हिंसक झड़प में देश के नाम पर अपनी जान गंवाने वाले तेलंगाना के कर्नल संतोष बाबू का पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। उनकी पत्नी और उनके चार साल के बेटे अनिरुद्ध ने उन्हें नम आंखों से विदाई दी। 

| Jun 19 2020, 06:03 PM IST

Share this Video
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

वीडियो डेस्क। लद्दाख में चीन की सेना के साथ हुई हिंसक झड़प में देश के नाम पर अपनी जान गंवाने वाले तेलंगाना के कर्नल संतोष बाबू का पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। उनकी पत्नी और उनके चार साल के बेटे अनिरुद्ध ने उन्हें नम आंखों से विदाई दी। उनके अंतिम संस्कार में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। जहां से होकर उनका पार्थिव शरीर गुजरा वहीं पर लोगों ने फूल बरसाए। अपने मां बाप के इकलौते तेलंगाना के सपूत संतोष बाबू ने दुश्मनों के छक्के छुड़ाए। उनके परिवार और आस-पड़ोस के लोगों ने उन्हें अंतिम विदाई दी। सेना ने उन्हें बंदूकों से सलामी दी। उनकी अंतिम यात्रा में 'भारत माता की जय', 'वंदे मातरम' और 'संतोष बाबू अमर रहें' के नारे भी लगाए गए। 4 साल के बेटे ने अपने पिता को सैल्यूट कर अंतिम विदाई दी।