Pakistan: कट्टरपंथियों ने 277 साल पुराने गुरुद्वारे को मस्जिद बताया, एंट्री भी की बैन

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के दमन का एक और चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां शहबाज शरीफ सरकार की शह शह पर मुस्लिम कट्टरपंथियों ने इवैक्यूई ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड (ETPB) के साथ मिलकर लाहौर के करीब 277 साल पुराने ऐतिहासिक शहीद भाई तारू सिंह गुरुद्वारे पर कब्जा कर लिया है।

| Dec 09 2022, 12:06 PM IST

Share this Video
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के दमन(Minority Atrocities in pakistan) का एक और चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां शहबाज शरीफ सरकार की शह शह पर मुस्लिम कट्टरपंथियों ने इवैक्यूई ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड (ETPB) के साथ मिलकर लाहौर के करीब 277 साल पुराने ऐतिहासिक शहीद भाई तारू सिंह गुरुद्वारे पर कब्जा कर लिया है। यहां सिखों की एंट्री बैन कर दी गइ है। मस्जिद पर ताला लगा दिया है। इसे मस्जिद बताया जा रहा है। इस हरकत से सिखों में गुस्सा फैल गया है।