Asianet News HindiAsianet News Hindi

Diwali 2021: दीपावली पर घर के दरवाजे पर लगाएं वंदनवार तो रखें इन बातों का ध्यान, मिलेंगे शुभ फल

दीपावली (Diwali 2021) पर सभी लोग अपने-अपने घरों की साफ-सफाई करते हैं, रंग-रोगन करते हैं। इसके बाद घर को सजाने के लिए कई चीजों का उपयोग करते हैं जैसे लाइट, फूल, आर्टिफिशियल फ्लॉवर, स्टीकर आदि। बदलते समय के साथ दीपावली पर घर सजाने की चीजों में बहुत परिवर्तन आए हैं, लेकिन एक चीज आज भी वैसी की वैसी ही है, वो है घर के मुख्य दरवाजे पर लगने वाला वंदनवार।

Diwali 2021, keep these things in mind while putting toran on door, you may get auspicious results
Author
Ujjain, First Published Nov 4, 2021, 5:45 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. दीपावली (Diwali 2021) की सजावट में शुभता का प्रतीक माने जाने वाले वंदनवार का विशेष महत्व होता है। यदि वास्तु नियमों के अनुसार दिशाओं और रंगों को ध्यान में रखकर वंदनवार का चयन किया जाए तो इसके शुभ फलों में और भी वृद्धि होती है और निश्चित रूप से हमारे जीवन में खुशियां, सफलता और समृद्धि का वास होता है। आगे जानिए वंदनवार से जुड़ी खास बातें…

1. आम, पीपल और अशोक के नए कोमल पत्तों की माला को वंदनवार कहा जाता है। इसे दीपावली पर मुख्य दरवाजे के ऊपर बांधना चाहिए। इस संबंध में मान्यता है कि सभी देवी-देवता इन पत्तियों की महक से आकर्षित होकर घर में प्रवेश करते हैं।
2. वंदनवार का चयन घर की दिशा अनुसार, रंगों और आकार को ध्यान में रखकर करने से सौभाग्य में वृद्धि होती है। यदि आपके घर का मुख्य द्वार पूर्व में है तो हरे रंग के फूलों और पत्तियों का वंदनवार लगाना सुख-समृद्धि को आमंत्रित करता है।
3. धन की दिशा उत्तर के मुख्य द्वार के लिए नीले या आसमानी रंग के फूलों का वंदनवार लटकाना चाहिए। यदि घर का प्रवेश द्वार दक्षिण दिशा में है तो लाल, नारंगी या इससे मिलते-जुलते रंगों से द्वार को सजाना चाहिए।
4. पश्चिम के मुख्य द्वार के लिए पीले रंग के फूलों के वंदनवार लाभ और उन्नति में सहायक होंगे। इस बात का ध्यान रखें कि जैसे ही वंधनवार के फूल या पत्तियां मुरझाएं, उन्हें तुरंत हटा देना चाहिए।
5. आज-कल बाजार में रेडिमेड वंदनवार आसानी से मिल जाते हैं। ये कई प्रकार की धातु, प्लास्टिक, लकड़ी व अन्य चीजों से बने होते हैं और बहुत ही सुंदर दिखाई देते हैं। घर को सुंदर दिखाने के लिए हम इन्हें लगा तो लेते हैं, लेकिन इसमें भी कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिे।
6. पश्चिम और उत्तर दिशा के द्वार पर धातु का वंदनवार लगाया जा सकता है। इसी प्रकार उत्तर, पूर्व और दक्षिण दिशा में बने प्रवेश द्वार पर लकड़ी का वंदनवार लगाया जा सकता है, लेकिन पश्चिम दिशा में लकड़ी से बने वंदनवार को लगाने से बचना चाहिए।

दिवाली के बारे में ये भी पढ़ें

Diwali 2021: देवी लक्ष्मी के चित्रों में छिपे हैं लाइफ मैनेजमेंट और सफलता पाने के कई खास सूत्र

Diwali 2021: दीपावली की रात इस विधि से करें श्रीसूक्त का पाठ, महालक्ष्मी प्रसन्न होकर कर देगी मालामाल

Diwali 2021: दीपावली पर कहीं करते हैं गौधन की पूजा तो कहीं पूर्वजों को याद, जानिए कहां कैसे मनाते हैं ये पर्व

Diwali 2021: ये हैं चेन्नई का प्रसिद्ध लक्ष्मी मंदिर, यहां मनोकामना पूर्ति के लिए चढ़ाई जाती है 1 खास चीज

Diwali 2021: दीपावली पर बंगाल में की जाती है देवी काली की पूजा, जानिए कारण और विधि

Narak Chaturdashi 2021: नरक और रूप चतुर्दशी से जुड़ी हैं कई कथाएं और मान्यताएं, इसे कहते हैं छोटी दीपावली

Diwali 2021: पाना चाहते हैं देवी लक्ष्मी की कृपा तो दीपावली की रात इन जगहों पर दीपक लगाना न भूलें

Diwali 2021: दीपावली पर 4 ग्रह रहेंगे एक ही राशि में, इस दिन करें देवी लक्ष्मी के इन 8 रूपों की पूजा

Diwali 2021: दीपावली पर देवी लक्ष्मी को क्यों चढ़ाते हैं खील-बताशे, क्यों करते हैं दीपदान?

29 अक्टूबर से 4 नवंबर तक बन रहे हैं कई शुभ योग, इनमें खरीदी और निवेश करना रहेगा फायदेमंद

Diwali 2021: दीपावली 4 नंवबर को, इस विधि से करें देवी लक्ष्मी, कुबेर औबहीखाता की पूजा, ये हैं शुभ मुहूर्त

Diwali 2021: 4 नवंबर को दीपावली पर करें इन 7 में से कोई 1 उपाय, इनसे बन सकते हैं धन लाभ के योग

दीपावली 4 नवंबर को, पाना चाहते हैं देवी लक्ष्मी की कृपा तो घर से बाहर निकाल दें ये चीजें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios