Asianet News HindiAsianet News Hindi

नवरात्रि के अंतिम दिन करें ये खास उपाय, दूर होगी पैसों की तंगी और हर काम में मिलेगी सफलता

14 अक्टूबर, गुरुवार को शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri 2021) का अंतिम दिन है। इस दिन नवरात्रि का समापन होता है और हवन आदि शुभ कार्य किए जाते हैं। ये तिथि नवरात्रि की सबसे खास होती है, क्योंकि इस दिन देवी सिद्धिदात्री  की पूजा की जाती है।

Navratri 2021, do these remedies on last day of festival to get success and solve financial problems
Author
Ujjain, First Published Oct 14, 2021, 6:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. देवी सिद्धिदात्री की कृपा से हर तरह की सिद्धि पूरी हो सकती है। ज्योतिषियों के अनुसार, इस दिन कुछ खास उपाय करने से आपकी परेशानियां कम हो सकती हैं और हर मनोकामना पूरी हो सकती है।आगे जानिए इस दिन किस मनोकामना के लिए कौन-से उपाय कर सकते हैं…

उपाय 1
नवरात्रि के अंतिम दिन घर के मुख्य द्वार पर मां लक्ष्मी के पदचिह्न लगाने चाहिए। पद चिह्नों को लगाते समय ध्यान रखें कि ये अंदर की तरफ आते हुए होने चाहिए। मान्यता है ऐसा करने से देवी लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है और आपके घर में बरकत आती है।

उपाय 2
यदि आपके व्यवसाय में किसी तरह की समस्याएं आ रही हो तो किसी पात्र (बर्तन) में पानी भरकर उसमें लाल और पीले रंग के फूल भी डालकर अपने कार्य स्थल (ऑफिस या दुकान) के मुख्य द्वार के पास पूर्व या उत्तर दिशा में रख दें। मान्यता है कि ऐसा करने से आपके व्यवसाय में रही समस्याएं धीरे-धीरे दूर होने लगती हैं।

उपाय 3
यदि आपके घर में पैसों की तंगी है या फिर अनावश्यक खर्च बढ़ गए हैं तो नवरात्रि के अंतिम दिन अपने मुख्य द्वार के पूर्व या उत्तर दिशा की ओर ऊं का चिह्न लगाएं। ये चिह्न लगाते हुए दिशा का विशेष ध्यान रखें। माना जाता है कि पूर्व और उत्तर दिशा में ये चिह्न लगाने से घर के अनावश्यक खर्च रुकते हैं और धन की आवक में भी वृद्धि होती है।

उपाय 4
नवरात्रि के अंतिम दिन रात करीब 12 बजे शुद्ध घी की 2 दीपक घर के मुख्य दरवाजे के दोनों और लगाएं और लक्ष्मी मंत्रों का जाप करें। इससे देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और आपके घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

उपाय 5
नवमी तिथि पर अपने घर में किसी योग्य पंडित से दुर्गा सप्तशती का पाठ करवाएं और उसके बाद हवन करें। इससे आपके घर की निगेटिविटी दूर होगी और सभी कामों में सफलता मिलने के योग बनने लगेंगे।

नवरात्रि के बारे में ये भी पढ़ें

14 अक्टूबर को नवरात्रि के अंतिम दिन करें मां सिद्धिदात्री की पूजा, ये हैं मुहूर्त, पूजा विधि, मंत्र और आरती

नवरात्रि की अष्टमी तिथि पर सुकर्मा और नवमी तिथि पर बन रहा है रवि योग, समृद्धि देने वाली हैं ये तिथियां

देवी सती के क्रोध से प्रकट हुई थीं 10 महाविद्याएं, इनकी साधना बड़ी सावधानी से करनी चाहिए

नवरात्रि में देवी को चढ़ाना चाहिए राशि अनुसार फूल, इससे पूरी हो सकती है आपकी हर कामना

नवरात्रि में किया जाता है कन्या पूजा, ये है नियम, विधि, महत्व व अन्य खास बातें

परंपरा: नवरात्रि में क्यों बोए जाते हैं जवारे, क्या है इसका जुड़े मनोवैज्ञानिक और वैज्ञानिक पक्ष?

नवरात्रि में ध्यान रखें वास्तु के ये खास टिप्स, दूर हो हो सकती है घर की निगिटिविटी

सपने में मां दुर्गा का दिखना होता है शुभ, लेकिन क्रोधित रूप में दिखे तो हो जाएं सावधान

मां दुर्गा ने कब, कौन-सा अवतार लेकर किया दुष्टों का संहार, नवरात्रि में जानिए देवी की कथाएं

1 हजार साल पुराना है ये देवी मंदिर, यहां आकर टूट गया था औरंगजेब का घमंड

परंपराएं: नवरात्रि में व्रत-उपवास क्यों करना चाहिए, इस दौरान क्यों किया जाता है कन्या पूजन?

नवरात्रि में योग-साधना कर जाग्रत करें शरीर के सप्तचक्र, हर मुश्किल हो जाएगी आसान

नवरात्रि में तंत्र-मंत्र और ज्योतिष के ये उपाय करने से दूर हो सकती है आपकी हर परेशानी

इस मंदिर में दिन में 3 बार अलग-अलग रूपों में होती है देवी की पूजा, 51 शक्तिपीठों में से एक है ये मंदिर

ढाई हजार साल पुराना है राजस्थान का ये देवी मंदिर, इससे जुड़ी हैं कई पौराणिक कथाएं

इस वजह से 9 नहीं 8 दिनों की होगी नवरात्रि, जानिए किस दिन कौन-सा शुभ योग बनेगा

मां शैलपुत्री से सिद्धिदात्री तक ये हैं मां दुर्गा के 9 रूप, नवरात्रि में किस दिन कौन-से रूप की पूजा करें?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios