पतंजलि की 'कोरोनिल' को आयुष मंत्रालय ने दी हरी झंडी? जानें पूरी खबर

वीडियो डेस्क। सोशल मीडिया पर एक पत्र वायरल हो रहा है जिसके आधार पर दावा किया है कि पतंजलि की दवा कोरोनिल को आयुष मंत्रालय की अनुमति मिल गई है। दरअसल 23 जून को आयुष मंत्रालय द्वारा पतंजली को लिखे गए पत्र का जवाब पतंजलि ने दे दिया है। इस जवाब में क्लिनिकल ट्रायल, ट्रायल साइट की जानकारी, स्टडी प्रोटोकॉल और सैम्पल्स से जुड़ा डेटा शामिल है। 

| Jun 25 2020, 03:47 PM IST

Share this Video
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

वीडियो डेस्क। सोशल मीडिया पर एक पत्र वायरल हो रहा है जिसके आधार पर दावा किया है कि पतंजलि की दवा कोरोनिल को आयुष मंत्रालय की अनुमति मिल गई है। दरअसल 23 जून को आयुष मंत्रालय द्वारा पतंजली को लिखे गए पत्र का जवाब पतंजलि ने दे दिया है। इस जवाब में क्लिनिकल ट्रायल, ट्रायल साइट की जानकारी, स्टडी प्रोटोकॉल और सैम्पल्स से जुड़ा डेटा शामिल है। इसी पत्र को आचार्य बालकृष्ण ने अपने फेसबुक पर पोस्ट किया था और कैप्शन लिखा था आयुष के विवाद की पूर्णाहुति। जिसके बाद लोगों ने इसे झूठी अफवाह बनाकर फैला दिया। आपको बता दें कि पतंजलि ने कोरोनिल पर किए क्लीनिकल ट्रायल की जानकारी आयुष मंत्रालय को सौंप दी है, लेकिन आयुष मंत्रालय की तरफ से अब तक कोरोनिक को कोविड-19 के इलाज के लिए कारगर घोषित नहीं किया गया है। सोशल मीडिया पर किए जा रहे दावे फर्जी हैं।