Asianet News HindiAsianet News Hindi

भारतीय वायुसेना का चीता हेलीकॉप्टर भूटान में क्रैश, बुलेटिन में देखें 5 बड़ी खबरें

Sep 27, 2019, 8:36 PM IST

बड़ी खबर-1
भारतीय सेना ने आतंकियों के घुसपैठ का वीडियो  जारी किया है। सेना के मुताबिक 30 जुलाई को कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी आतंकवादियों ने घुसपैठ की कोशिश की। सैनिकों को जैसे ही इसका पता चला, उन्होंने  उनपर बम बरसाना शुरू कर दिया। जान बचाने के लिए आतंकियों को वापस लौटना पड़ा। आतंकी भारतीय चौकियों पर हमले और घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे। वहीं जम्मू कश्मीर के कई इलाकों में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए शुक्रवार को फिर से प्रतिबंध लागू कर दिए गए। श्रीनगर का लालचौक सील किया गया है।

बड़ी खबर-2
भारतीय वायुसेना का चीता हेलीकॉप्टर भूटान में क्रैश, दोनों पायलटों की मौत
भारतीय वायुसेना का चीता हेलीकॉप्टर भूटान में क्रैश हो गया जिसमें सवार दोनों पायलटों की मौत हो गई। एएनआई के सूत्रों के अनुसार, इस हादसे में जान गंवाने वाले पायलटों में एक कर्नल रैंक के थे।
चीता हेलीकॉप्टर भूटान में क्रैश

बड़ी खबर-3
4 राज्यों के उपचुनाव नतीजे आए सामने, यूपी-त्रिपुरा में भाजपा और केरल में लेफ्ट की जीत
चार राज्यों में 4 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के नतीजे घोषित हो गए। हमीरपुर सीट पर भाजपा के युवराज सिंह को जीत मिली। पाला सीट पर लेफ्ट सत्ताधारी एलडीएफ के मणि सी कप्पन ने यूडीएफ के जोस टॉम को हराया। बाधरघाट सीट से भाजपा की मिनी मजूमदार जीतीं। दंतेवाड़ा से कांग्रेस की देवती कर्मा जीत गई। 


बड़ी खबर-4
शरद पवार को ED का ईमेल, अभी पूछताछ की जरूरत नहीं
कोआपरेटिव बैंक घोटाले के मामले में NCP नेता शरद पवार को ईडी ने ईमेल किया है, ईडी ने कहा है कि 25 हजार करोड़ के बैंक घोटाले के मामले में अभी पूछताछ की जरूरत नहीं है। जब होगी तब बताएंगे। बता दें कि बॉम्बे हाई कोर्ट के आदेश के बाद मुम्बई पुलिस ने कोआपरेटिव बैंक घोटाले के मामले में एफआईआर दर्ज की. ed ने भी मामला दर्ज कर लिया है और जांच के घेरे में शरद पवार और उनके भतीजे अजीत पवार आ गए हैं। वहीं राकांपा प्रमुख शरद पवार ने  कहा कि मैं ईडी को बताना चाहता था कि कंपनी में कोई पद नहीं लिया था और न ही डायरेक्टर था। इसके बावजूद मेरे खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।
इस घोटाले से मेरा कोई लेना-देना नहीं- पवार 


बड़ी खबर-5
युवराज सिंह ने लगाया आरोप, कहा- टीम प्रबंधन के रवैए के कारण  लेना पड़ा अचानक संन्यास
युवराज सिंह ने आरोप लगाया, भारतीय टीम प्रबंधन को मेरा अंतरराष्ट्रीय करियर खत्म कराने की जल्दी थी। खुद को साबित करने के लिए मेरे सामने लगातार नई चुनौतियां रखी जा रहीं थीं। युवराज ने अफसोस जताया कि किसी ने भी मुझसे बात नहीं की। उन्होंने कहा कि 2011 के वर्ल्डकप में शानदार प्रदर्शन करने के बाद वे 2015 वर्ल्डकप में भी खेलना चाहते थे लेकिन टीम प्रबंधन ने उनका साथ नहीं दिया। 
युवराज ने बताई संन्यास लेने की वजह 

Video Top Stories