Asianet News HindiAsianet News Hindi

11 जुलाई को 2 शुभ योगों में होगी गुप्त नवरात्रि की शुरूआत, तंत्र सिद्धि के लिए खास ये है पर्व

इस बार आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि की शुरूआत 11 जुलाई, रविवार से होगी, जो 18 जुलाई तक रहेगी। गुप्त नवरात्रि के पहले ही दिन रवि पुष्य और सर्वार्थसिद्धि नाम के 2 शुभ योग बन रहे हैं।

Gupt Navaratri of Ashad Maas starts from 11th July KPI
Author
Ujjain, First Published Jul 9, 2021, 8:54 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. तिथि क्षय होने से इस बार गुप्त नवरात्रि 8 दिनों की होगी। ये नवरात्रि वामाचार यानी तंत्र सिद्धि के लिए बहुत विशेष मानी जाती है। आगे जानिए इससे जुड़ी खास बातें…

इसलिए खास है आषाढ़ की गुप्त नवरात्रि
आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि में वामाचार (तंत्र-मंत्र) पद्धति से उपासना की जाती है। यह समय शाक्त (महाकाली की पूजा करने वाले) एवं शैव (भगवान शिव की पूजा करने वाले) के लिए विशेष होता है। इस गुप्त नवरात्रि में संहारकर्ता देवी-देवताओं के गणों एवं गणिकाओं अर्थात भूत-प्रेत, पिशाच, बैताल, डाकिनी, शाकिनी, खण्डगी, शूलनी, शववाहनी, शवरूढ़ा आदि की साधना की जाती है। ऐसी साधनाएं शाक्त मतानुसार शीघ्र ही सफल होती हैं। दक्षिणी साधना, योगिनी साधना, भैरवी साधना के साथ पंच मकार (मद्य (शराब), मछली, मुद्रा, मैथुन, मांस) की साधना भी इसी नवरात्रि में की जाती है।

गुप्त नवरात्रि में करते हैं दस महाविद्याओं की पूजा
गुप्त नवरात्रि दस महाविद्या में विशेष रूप से दस महाविद्याओं के लिए साधना की जाती है। इनके नाम है, मां काली, तारा देवी, षोडषी, भुवनेश्वरी, भैरवी, छिन्नमस्ता, धूमावती, बगलामुखी, मातंगी, और कमला देवी।

किस दिन कौन-सी तिथि रहेगी?
11 जुलाई, रविवार- प्रतिपदा तिथि रहेगी
12 जुलाई, सोमवार- द्वितिया तिथि
13 जुलाई, मंगलवार- तृतीया तिथि
14 जुलाई, बुधवार- चतुर्थी और पंचमी तिथि का योग
15 जुलाई, गुरुवार- षष्ठी तिथि
16 जुलाई, शुक्रवार- सप्तमी तिथि
17 जुलाई, शनिवार- अष्टमी तिथि
18 जुलाई, रविवार- नवमी तिथि

आषाढ़ मास के बारे में ये भी पढ़ें

साल की दूसरी शनैश्चरी अमावस्या 10 जुलाई को, जानिए क्यों खास है ये तिथि, इस दिन क्या करें?

हलहारिणी अमावस्या आज: इस दिन पौधे लगाने से मिलता है पुण्य और खास उपाय करने से दूर हो सकती हैं परेशानियां

आषाढ़ अमावस्या पर करें राशि अनुसार चीजों का दान, दूर होंगी सभी परेशानियां और पूरी होगी मनोकामना

2 दिन रहेगी आषाढ़ मास की अमावस्या, जानिए किस दिन क्या करना रहेगा शुभ

वर्षा ऋतु में बढ़ जाती है पानी से होने वाली बीमारियां, बचने के लिए ध्यान रखें ये बात

11 जुलाई से शुरू होगी आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि, इस बार 9 नहीं 8 दिनों की होगी

आषाढ़ मास की पूर्णिमा पर बनेगा शुभ योग, जानिए इस महीने से जुड़ी कुछ खास बातें

आषाढ़ मास में करें भगवान वामन की पूजा, मिलता है संतान सुख और पूरी हो सकती है मनोकामनाएं

आषाढ़ मास में 5 शुक्रवार और 5 शनिवार का योग, मंगल-शनि की युति से बढ़ सकती हैं परेशानियां

24 जुलाई तक रहेगा हिंदू कैलेंडर का चौथा महीना आषाढ़, इस महीने में मनाएं जाएंगे ये प्रमुख व्रत-त्योहार

आषाढ़ मास आज से: इस समय ज्यादा होता है बीमार होने का खतरा, इन बातों का रखना चाहिए ध्यान

24 जुलाई तक रहेगा आषाढ़ मास, इस महीने में सूर्य पूजा करने से दूर होती है बीमारियां, बढ़ती है उम्र

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios