Asianet News HindiAsianet News Hindi

Diwali 2021: दीपावली पर इस दिशा में लगाएं अखंड दीपक, दूर होगी निगेटिविटी और बनेंगे धन लाभ के योग

हिंदू धर्म में हर शुभ कार्य की शुरुआत करते समय दीपक जरूर जलाया जाता है। दीपक हिंदू धर्म से सदियों से जुड़ा है। प्रमुख त्यहोरों पर भी दीपक जलाने की परंपरा है। दीपावली (Diwali 2021) भी एक ऐसा ही त्योहार है। बिना दीपकों के दीपावली (इस बार 4 नवंबर, गुरुवार) की कल्पना भी नहीं की जा सकती।

Diwali 2021, light akhand deepak in this direction for financial gains and keeping away negativity
Author
Ujjain, First Published Nov 4, 2021, 7:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. ऐसी मान्यता है कि जब भगवान श्रीराम अपना वनवास खत्म कर अयोध्या लौटे थे तो नगरवासियों ने खुशी में पूरे नगर में दीपकों से रौशनी कर दी थी। तभी से दीपावली पर दीपक जलाने की परंपरा चली आ रही है। दीपक से जुड़ी और भी कईं परंपराएं और मान्यताएं हैं। धर्म ग्रंथों में दीपक जलाने के मंत्र भी बताए गए हैं। वास्तु में भी दीपक से जुड़ी खास बातें बताई गई हैं। कई उपायों में भी दीपक का उपयोग किया जाता है। आगे जानिए दीपक से जुड़ी खास बातें...

निगेटिविटी दूर करता है दीपक

दीपावली की पूजा में गाय का घी, सरसों या तिल के तेल से दीपक जलाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा दूर होकर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, घर में समृद्धि आती है एवं परिवार के लोगों को यश एवं प्रसिद्धि मिलती है। वास्तु नियमों के अनुसार अखंड दीपक पूजा स्थल के आग्नेय कोण में रखा जाना चाहिए, इस दिशा में दीपक रखने से धन का आगमन होता है एवं शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है।

उत्तर दिशा में लगाएं दीपक
दीपावली के दिन लक्ष्मीजी की पूजा के दीपक उत्तर दिशा में रखने से घर धन-धान्य से संपन्न रहता है। दीपक जलाने के बारे में कहा जाता है कि सम संख्या में जलाने से ऊर्जा का संवहन निष्क्रिय हो जाता है, जब कि विषम संख्या में दीपक जलाने पर वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का निर्माण होता है। यही वजह है कि धार्मिक कार्यों में हमेशा विषम संख्या में दीपक जलाए जाते हैं। 

टूटा-फूटा न हो दीपक
ध्यान रखें कि यदि मिटटी का दीप जला रहें हैं तो दीप साफ हो और कहीं से टूटे हुए न हो।किसी भी पूजा में टूटा हुआ दीपक अशुभ और वर्जित माना गया है। गाय के घी का का दीपक जलाने से आस-पास का वातावरण रोगाणुमुक्त होकर शुद्ध हो जाता है। दीपक से हमें जीवन के उर्ध्वगामी होने, ऊँचा उठने और अज्ञानरूपी अन्धकार को मिटा डालने की प्रेणना मिलती है। दीपक की लौ के संबंध में मान्यता है कि उत्तरदिशा की ओर लौ रखने से स्वास्थ्य और प्रसन्नता बढ़ती है, पूर्व दिशा की ओर लौ रखने से आयु की वृद्धि होती है।

दिवाली के बारे में ये भी पढ़ें

Diwali 2021: खीर, मखाना, सिंघाड़ा सहित इन 5 चीजों को देवी लक्ष्मी को लगाएं भोग, बनी रहेगी देवी की कृपा

Diwali 2021: दीपावली पर लक्ष्मी पूजा में रखें ये 5 चीजें, प्रसन्न होंगी देवी और घर में बनी रहेगी सुख-समृद्धि

Diwali 2021: दीपावली पर घर के दरवाजे पर लगाएं वंदनवार तो रखें इन बातों का ध्यान, मिलेंगे शुभ फल

Diwali 2021: देवी लक्ष्मी के चित्रों में छिपे हैं लाइफ मैनेजमेंट और सफलता पाने के कई खास सूत्र

Diwali 2021: दीपावली की रात इस विधि से करें श्रीसूक्त का पाठ, महालक्ष्मी प्रसन्न होकर कर देगी मालामाल

Diwali 2021: दीपावली पर कहीं करते हैं गौधन की पूजा तो कहीं पूर्वजों को याद, जानिए कहां कैसे मनाते हैं ये पर्व

Diwali 2021: ये हैं चेन्नई का प्रसिद्ध लक्ष्मी मंदिर, यहां मनोकामना पूर्ति के लिए चढ़ाई जाती है 1 खास चीज

Diwali 2021: दीपावली पर बंगाल में की जाती है देवी काली की पूजा, जानिए कारण और विधि

Narak Chaturdashi 2021: नरक और रूप चतुर्दशी से जुड़ी हैं कई कथाएं और मान्यताएं, इसे कहते हैं छोटी दीपावली

Diwali 2021: पाना चाहते हैं देवी लक्ष्मी की कृपा तो दीपावली की रात इन जगहों पर दीपक लगाना न भूलें

Diwali 2021: दीपावली पर 4 ग्रह रहेंगे एक ही राशि में, इस दिन करें देवी लक्ष्मी के इन 8 रूपों की पूजा

Diwali 2021: दीपावली पर देवी लक्ष्मी को क्यों चढ़ाते हैं खील-बताशे, क्यों करते हैं दीपदान?

29 अक्टूबर से 4 नवंबर तक बन रहे हैं कई शुभ योग, इनमें खरीदी और निवेश करना रहेगा फायदेमंद

Diwali 2021: दीपावली 4 नंवबर को, इस विधि से करें देवी लक्ष्मी, कुबेर औबहीखाता की पूजा, ये हैं शुभ मुहूर्त

Diwali 2021: 4 नवंबर को दीपावली पर करें इन 7 में से कोई 1 उपाय, इनसे बन सकते हैं धन लाभ के योग

दीपावली 4 नवंबर को, पाना चाहते हैं देवी लक्ष्मी की कृपा तो घर से बाहर निकाल दें ये चीजें

  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios