Asianet News HindiAsianet News Hindi

रावण को क्यों कहा जाता है दशानन, क्या है 10 सिर की कहानी?

वीडियो डेस्क। दशहरा का महापर्व मनाया जा रहा है। शहर शहर में रावण का दस सिर वाला पुतला जलाया जा रहा है। ऐसे में ये जानना जरूरी है कि आखिर रावण क्यों दशानन कहलाया था। रावण भगवान शिव का परम भक्त था। भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए रावण ने सालों तक तपस्या की थी। 

वीडियो डेस्क। दशहरा का महापर्व मनाया जा रहा है। शहर शहर में रावण का दस सिर वाला पुतला जलाया जा रहा है। ऐसे में ये जानना जरूरी है कि आखिर रावण क्यों दशानन कहलाया था। रावण भगवान शिव का परम भक्त था। भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए रावण ने सालों तक तपस्या की थी। जब भगवान प्रसन्न नहीं हुए तो रावण ने अपने सिर काटकर उन्हें अर्पित किया। रावण सिर काटता गया और एक के बाद एक उसका दूसरा सिर आता गया। इस तरह रावण ने अपने 9 सिर को काटकर शिव को अर्पित कर दिया। जैसे ही रावण ने दसवां सिर काटकर भगवान को अर्पित करना चाहा तो शिव प्रकट हुए दशानन होने के वरदान दिया। इतनी ही उन्होंने रावण को अपना परम भक्त कहा। 
 

Video Top Stories