Asianet News Hindi

हिस्ट्री में पहली बार: कोरोना की वजह से अमेरिकी क्रूड ऑयल का भाव माइनस में पहुंचा

Apr 21, 2020, 3:27 PM IST

वीडियो डेस्क। अमेरिकी क्रूड ऑयल प्राइस के बेंचमार्क वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) के मई फ्यूचर्स का भाव सोमवार को माइनस 37.63 डॉलर प्रति बैरल तक फिसल गया। इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ। यह ग्लोबल एनर्जी सेक्टर के लिए बड़े खतरे का संकेत है। क्रूड का भाव सप्लाई, डिमांड और क्वालिटी जैसे कई कारकों पर निर्भर करता है। कोविड-19 की वजह से लोग घरों में हैं। ऐसे में तेल की मांग घट गई है और बाजार में मांग से ज्यादा सप्लाई हो गई। ओवरसप्लाई की वजह से स्टोरेज कैपिसिटी भी फुल हो गई है।

क्या रही गिरावट की वजह?
सोमवार को ट्रेडर्स ने मई कॉन्ट्रैक्ट को बेचना शुरू कर दिया जिसकी वजह से क्रूड प्राइस क्रैश हो गया। मई डिलीवरी के लिए अमेरिकी बेंचमार्क वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (WTI) क्रूड प्राइस सोमवार को 300 फीसदी से ज्यादा गिर गया। मई कॉन्ट्रैक्ट के लिए क्रूड प्राइस गिरकर -40.32 डॉलर प्रति बैरल तक आ गया था। हालांकि बाद में यह मामूली सुधार के साथ -37.63 डॉलर प्रति बैरल पर सेटल हुआ। तेल की कीमतों में मंगलवार को हालांकि फिर से उछाल आया जब पहली बार अमेरिका का कच्चा तेल शून्य डॉलर से नीचे कारोबार होने के बाद सकारात्मक मोड़ आया। लेकिन लाभ या उछाल बाज़ार की अनसुलझी चिंताओं के बीच इसलिये सीमित रहा कि यह कोरोनावायरस महामारी से तबाह हुई चीजों से कैसे निपटेगा। मई डिलीवरी के लिए यूएस वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) क्रूड पिछले सत्र में 37.63 डॉलर प्रति बैरल की छूट पर सेटल होने के बाद 38.73 डॉलर से 1.10 डालर प्रति बैरल तक पहुंच गया।

Video Top Stories