Asianet News HindiAsianet News Hindi

उन्नाव: मां की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाया बेटा, एक के बाद एक 4 लोगों ने लगा दी गंगा में छलांग

यूपी के उन्नाव जनपद में अंतिम संस्कार के लिए गए लोगों में से 4 ने गंगा नदी में छलांग लगा दी। दरअसल मां की मौत के बाद बड़े बेटे ने नदी में छलांग लगाई और उसके बाद तीन अन्य लोग एक दूसरे को बचाने के लिए उसमें कूदे। 

Oct 1, 2022, 11:23 AM IST

उन्नाव जनपद के बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के बिल्हौर मार्ग पर स्थित नानामऊ घाट पर उस वक्त अफरा तफरी मच गई जब अपनी मां का अंतिम संस्कार करने के बाद बेटों ने नदी में छलांग लगा दी। बड़ा बेटा मिंटू मां से बिछड़ने का दुख सहन न कर पाया और उसने गंगा नदी में छलांग लगा दी। वहीं बड़े भाई मिंटू को डूबता देख बचाने के लिए छोटे भाई कमलेश ने पीछे से गंगा में छलांग लगाई। दोनों को डूबता देख वहां पर खड़े कमलेश के दो बेटों ने आकाश उम्र 22 वर्ष राकेश उम्र 20 वर्ष ने भी गंगा में छलांग लगा दी। बताया जा रहा है कि वहां पर मौजूद गोताखोरों ने आनन-फानन  मिंटू और कमलेश को सुरक्षित गंगा से बाहर निकाल लिया है। दूसरी तरफ कमलेश के दोनों बेटों की तलाश की जा रही है। घटना की जानकारी मिलने के बाद नानामऊ घाट पर पहुंची कोतवाली पुलिस गंभीरता से जांच में जुटी हुई है। कोतवाली प्रभारी ओपी राय ने बताया कि घटना को 2 घंटे होने वाले हैं फिलहाल गोताखोर स्टैमर के जरिए लापता दोनों युवकों की तलाश में जुटे हुए हैं।

बता दें कि बेहटा मुजावर थाना क्षेत्र के रूरी सादिकपुर गांव की रहने वाली राजा पासी की पत्नी का देहांत हो गया था, जिसके अंतिम संस्कार के लिए परिवार वाले सब को नानामऊ घाट पर ले गए थे। इसी दौरान बड़े बेटे मिंटू ने मां के बिछड़ने का दुख सहन नहीं कर पाया और गंगा में छलांग लगा दी। भाई को डूबता देख छोटे भाई कमलेश ने बचाने के लिए गंगा में छलांग लगा दी। किंतु गहरा पानी होने से बचाने में नाकाम रहा। 
 

Video Top Stories