दूसरों के सामने कब हाथ फैलाना बंद करेगा कंगाल पाकिस्तान?

'नया पाकिस्‍तान' बनाने का वादा करके सत्‍ता में आए पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने जैसे तय कर लिया है कि वह पाकिस्‍तान को कर्ज में डूबोकर ही मानेंगे। सत्‍ता में आने से पहले इमरान ने वादा किया था कि वह विदेशी संस्‍थाओं से कर्ज लेने की संस्‍कृति पर रोक लगाएंगे लेकिन अब वह खुद ही कर्ज पर कर्ज लिए जा रहे हैं। ताजा मामला अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष का है जिससे पाकिस्‍तान 50 करोड़ डॉलर कर्ज लेने जा रहा है। वह भी तब जब हर पाकिस्‍तानी नागरिक पर अब 1 लाख 75 हजार रुपये का कर्ज है।

| Feb 17 2021, 12:18 PM IST

Share this Video
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

'नया पाकिस्‍तान' बनाने का वादा करके सत्‍ता में आए पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने जैसे तय कर लिया है कि वह पाकिस्‍तान को कर्ज में डूबोकर ही मानेंगे। सत्‍ता में आने से पहले इमरान ने वादा किया था कि वह विदेशी संस्‍थाओं से कर्ज लेने की संस्‍कृति पर रोक लगाएंगे लेकिन अब वह खुद ही कर्ज पर कर्ज लिए जा रहे हैं। ताजा मामला अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष का है जिससे पाकिस्‍तान 50 करोड़ डॉलर कर्ज लेने जा रहा है। वह भी तब जब हर पाकिस्‍तानी नागरिक पर अब 1 लाख 75 हजार रुपये का कर्ज है।